Hair Fall Treatment in Hindi – बालों को झड़ने से रोकने के उपाय

मजबूत और स्वस्थ बाल हमारी सुंदरता को निखारते हैं और हमारे व्यक्तित्व और आत्मविश्वास को भी बढ़ाते हैं। अच्छे बाल होने से हम दूसरे लोगों के सामने अच्छा महसूस करते हैं। लेकिन एक बार जब आपके बाल झड़ना शुरू हो जाते हैं, तो इसके साथ-साथ आपका आत्मविश्वास भी कम हो जाता है क्योंकि लोग आपको आपके लुक के आधार पर आंकने लगते हैं जो वे आमतौर पर करते हैं।

आजकल की जीवनशैली के चलते बालों का झड़ना एक आम समस्या बन चुकी है। चाहे वे पुरुष हो या महिलाएं, इस समस्या से हर कोई परेशान रहता है। इतना ही नहीं आजकल छोटे-छोटे बच्चों में भी बाल झड़ने की समस्या देखने को मिल रही है जो काफी आश्चर्यजनक है। अधिक मात्रा में बाल टूटने से गंजापन होने की समस्या पैदा हो सकती है।

बालों को झड़ने से रोकने के प्राकृतिक उपाय – Natural Hair Fall Treatment in Hindi

बाल झड़ने की समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए हम शैम्पू, कंडीशनर, हेयर जेल, हेयर स्प्रे, और न जाने कितने ही उत्पादों का इस्तेमाल करते हैं। 2021 में ग्लोबल हेयर केयर मार्किट ने 70 अरब यूरो का व्यापार किया।

लेकिन क्या इन उत्पादों से सच में फायदा होता है? डर्मेटोलॉजिस्ट की सलाह है की अगर घने, मुलायम और काले बाल चाहिए तो अपने खानपान पर ध्यान देना जरुरी है।

तो चलिये जानते हैं वो कौनसी चीज़ें हैं जिन्हे खाने से आपके बाल झड़ना बंद हो जायेंगे और जड़ से मजबूत बने रहेंगे।

1. सूखे हुए मशरूम

Dry Mushroom

प्रति 100 ग्राम सूखे हुए मशरूम में 157 mg बायोटिन (Biotin) होता है। जबकि सामान्य मशरूम में मात्रा 94 ग्राम ही बायोटिन होता है। दिनभर में हमें सिर्फ 30 mg बायोटिन की ही जरुरत होती है।

बायोटिन वो प्रोटीन है जो बालों को स्वस्थ बनाता है। इसकी कमी होने से बाल रूखे, सूखे और बेजान हो जाते हैं और गिरने भी लगते हैं। लेकिन 4 दिन का बायोटिन एक ही दिन में लेने से कोई फायदा नहीं होता क्योंकि शरीर को उतना ही बायोटिन चाहिए होता है जितना उसे जरुरत होती है।

2. बीन्स

Beans

बीन्स में भारी मात्रा में आयरन होता है। आयरन भी बालों की सेहत के लिए बेहद जरुरी होता है। माँसाहारी लोगो को आयरन आसानी से मिल जाता है जबकि शाकाहारी लोगों को आयरन की पूर्ति करने के लिए अपने आहार में कई सारी आयरन युक्त चीज़ों को शामिल करना पड़ता है।

मासिक धर्म (menstruation period) के दौरान महिलाओं को पुरुषों की तुलना में ज्यादा आयरन लेने की जरुरत होती है। उन्हें लगभग दिन में 15 mg और जबकि पुरुषों को दिन में 10 mg ही चाहिए होता है। मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को ब्लीडिंग होती जिससे आयरन की कमी होती है और अधिक मात्रा में बाल झड़ने लगते हैं।

बहुत लोग नहीं जानते की आयरन के साथ-साथ विटामिन सी भी लेना जरुरी होता है। विटामिन सी शरीर में आयरन को सोखने में मदद करता है। तो उबले हुए बीन्स में थोड़ा सा निम्बू निचोड़ लें या फिर साथ में संतरे का जूस पी लें।

3. चिकन की टंगड़ी

Chicken leg piece

चिकेन की टंगड़ी जिसे हम चिकन लेग पीस भी कहते हैं, उसमें Llysine नाम का एमिनो एसिड होता है। L-lysine के इस एमिनो एसिड को शरीर खुद नहीं बना सकता।

एक रिसर्च बताती है की L-lysine लेने से शरीर आयरन को भी बेहतर रूप से सोख पाता है। महिलाओं पर हुए एक शोध में देखा गया की L-lysine लेने से उनके बालों का गिरना कम हुआ।

हर एक किलो वजन के लिए हमें 28 mg L-lysine की जरुरत होती है। उदाहरण के लिए, यदि आपका वजन 70 किलो है तो आपको दिनभर में लगभग 1960 mg L-lysine लेने की जरुरत होती है। 70 किलो के एक व्यक्ति को इतना L-lysine सिर्फ 100 ग्राम चिकन की टंगड़ी से मिल जाता है। इसीलिए ऐसा नहीं है की बालों की खातिर आप हर रोज़ बटर चिकन की पूरी प्लेट आर्डर करने लगें।

लेकिन जरुरी नहीं है की ये सब आपकी डाइट का हिस्सा हों ही। और भी चीज़ें हैं जिन्हें आप नियमित रूप से ले सकते हैं जैसे की अंडा, दालें, मेवे ( ख़ास कर सूरजमुखी के बीज), केले, अवाकाडो।

रोज़ाना कितने बाल झड़ना सामान्य है? – How Much Hair Fall Is Normal?

आप जितना भी संतुलित आहार क्यों न लें लेकिन रोज़ थोड़े बहुत बालों का गिरना सामान्य होता है और इस पर अधिक ध्यान देने की जरुरत नहीं होती। लेकिन अगर बाल जरूरत से ज्यादा झड़ने लगें तो यह परेशानी और चिंता का कारण बन सकता है।

लेकिन रोज़ाना कितने बालों का झड़ना सामान्य है? अमेरिकन एकेडमी ऑफ डर्मेटोलॉजिस्ट के अनुसार एक दिन में 50 से 100 बाल झड़ना सामान्य है। लेकिन बालों का झड़ना उनकी लम्बाई और घनत्व पर भी निर्भर करता है। छोटे और पतले बाल कम झड़ते हैं और जबकि लम्बे और घने बाल ज्यादा झड़ते हैं। पुरुषों की तुलना में महिलाओं में हर दिन अधिक बाल झड़ते हैं। यह बाल आमतौर पर कंघी करते समय, नहाते समय और सोते समय झड़ सकते हैं।

बाल झड़ने के कारण – Causes of hair fall in Hindi

बालों के झड़ने के कई कारण हो सकते हैं जैसे की:

  • परिवार का इतिहास (heredity) – पारिवारिक इतिहास बालों के झड़ने का एक प्रमुख कारण है। यदि आपके माता-पिता या दादा-दादी के अधिक बाल झड़ते हैं, तो इस बात की बहुत अधिक संभावना है कि आपके भी बाल झड़ेंगे।
  • उम्र का बढ़ना – जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, बाल हलके होते जाते हैं और झड़ने लगते हैं।
  • तनाव – अधिक तनाव भी बालों के झड़ने का कारण बन सकता है। तनाव के कारण शरीर में कोर्टिसोल (cortisol) नामक हार्मोन का स्तर बढ़ जाता है। बहुत अधिक कोर्टिसोल आपके बालों पर कहर बरपा सकता है और उनके झड़ने का कारण बन सकता है।
  • रूखे बाल – रूखे बाल बालों के झड़ने के मुख्य कारणों में से एक है। बालों में रूखापन उन्हें रूखा बना देता है, जिससे उनके टूटने की संभावना और भी ज्यादा बढ़ जाती है।
  • पोषक तत्वों की कमी – शरीर में पोषक तत्वों की कमी बाल झड़ने का कारण बन सकते हैं। इन पोषक तत्वों में आयरन, जिंक और विटामिन बी कॉम्प्लेक्स शामिल हैं। इनमें से किसी भी पोषक तत्व की कमी के कारण आपके बाल अधिक मात्रा में झड़ सकते हैं।
  • दवाएं – ऐसी कई दवाएं हैं जो बालों के झड़ने का कारण बन सकती हैं। इनमें थाइरोइड, हाई ब्लड प्रेशर, गर्भनिरोधक, एंटीडिपेंटेंट्स और एंटीसाइकोटिक्स जैसी दवाएं शामिल हैं।
  • गर्भावस्था – गर्भावस्था में बालों का झड़ना सामान्य होता है। अधिक बालों का झड़ना गर्भावस्था के दौरान होने वाले मामूली शारीरिक परिवर्तनों के कारण हो सकता है।
  • थायराइड – थायराइड की समस्या भी आपके बालों के झड़ने का कारण हो सकता है। थाइरोइड एक ऐसा रोग है जिसमें आपकी थाइरोइड ग्रंथि आपके शरीर के तापमान को नियंत्रित करने वाले हार्मोन का उत्पादन नहीं कर पाती।
  • खून की कमी (Anemia) – बालों का झड़ना एनीमिया का लक्षण हो सकता है, जो लाल रक्त कोशिकाओं में कमी के कारण होता है। जब आपके शरीर में पर्याप्त मात्रा में लाल रक्त कोशिकाएं नहीं होती तो, यह आपके बालों के रोम (Hair follicle) को ऑक्सीजन और पोषक तत्व प्रदान नहीं कर पाते जिससे वे बेजान हो जाते हैं और गिरने लगते हैं।

जैसा की अब आप जान चुके होंगे की दिनभर में 50-100 बालों का झड़ना सामान्य माना जाता है। यदि आपके बाल इससे भी ज्यादा मात्रा में गिर रहे हैं तो डॉक्टर से जरूर मिलें। क्योंकि इतनी सारी बाल झड़ने की संभावनाओं में से आप पर कोनसी लागू होती हैं, ये तो डॉक्टर ही बता सकते हैं।

बिना डॉक्टर की सलाह से टीवी के विज्ञापन में दिखाए जाने वाले उत्पादों पर खर्चा मत कीजिये क्योंकि उससे फायदे की जगह नुकसान भी हो सकता है।

बालों की सेहत के लिए आप आयुर्वेदिक दवाओं का भी इस्तेमाल कर सकते है क्योंकि उनसे न के बराबर दुष्प्रभाव होते हैं। विकल्प के तोर पर आप दिव्या कायाकल्प वटी का इस्तेमाल कर सकते हैं लेकिन इसे उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह-मशविरा करें।

बाल झड़ने के इलाज के दुष्प्रभाव – Hair treatment side effects in Hindi

जब बाल झड़ते हैं तो आप किसी न किसी इलाज़ का साहरा लेते हैं। पर इनसे साइड इफेक्ट्स भी हो सकते हैं। कुछ Hair treatment products को नपुसंकता यानि (Erectile dysfunction) के लिए भी जिम्मेदार पाया गया है।

दूसरी तरफ Hair transplant एक अच्छा विकल्प है लेकिन यह इतना महंगा होता है की आम लोग इसे अफोर्ड नहीं कर पाते। पर ऐसा बिलकुल भी नहीं है की हेयर ट्रांसप्लांट से साइड इफेक्ट्स नहीं हो सकते। इसलिए आप जैसे हैं वैसे ही खुश रहिये।

आपको पता है हमारे सिर पर बाल होते ही क्यों हैं? हमें मौसम की मार से बचाने के लिए। जानवर 4 पैरों पर चलते हैं लेकिन इंसान 2 पैरो पर सीधा खड़ा होता है। ऐसे में सूरज की तेज़ किरणें भी सबसे पहले सिर पर ही पड़ती हैं और ठंडी हवा भी वहीँ लगती है। बाल हमारे सिर पर एक प्राकृतिक टोपी की तरह है जो हमें सूरज से निकलने वाली अल्ट्रावायलेट किरणों से भी बचाती है और बीमार पड़ने से भी। तो अपने बालों का ख्याल रखें।

Herb Home Cure
Herb Home Cure
Articles: 39

Leave a Reply

Your email address will not be published.