Deriphyllin Tablet Uses in Hindi – उपयोग, दुष्प्रभाव, खुराक, इत्यादि

Deriphyllin Tablet Zydus Lifesciences Limited कंपनी द्वारा निर्मित एक प्रिस्क्रिप्शन दवा है। यह टेबलेट ‘Xanthines’ नमक दवाओं के एक समूह से संबंधित है जिसका उपयोग मुख्य रूप से अस्थमा और क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD) के इलाज के लिए किया जाता है। इसका उपयोग घरघराहट, सांस लेने में तकलीफ और सांस की अन्य समस्याओं से राहत प्रदान करने के लिए भी किया जाता है। इन बीमारियों के अलावा और भी कई बीमारियों में इसका इस्तेमाल किया जाता है। चलिए अब विस्तार से इस दवा के उपयोगों के बारे में जानते हैं।

Table of Contents hide

Deriphyllin Tablet के उपयोग – Deriphyllin Tablet Uses in Hindi

Deriphyllin tablet का प्रयोग निम्नलिखित बीमारियों के उपचार और रोकथाम के लिए किया जाता है:

अस्थमा

अस्थमा एक ऐसी स्थिति है जिसमें बलगम के अतिरिक्त उत्पादन से सांस की नली (वायुमार्ग) सिकुड़ जाती है और उसमें सूजन आ जाती है। इससे सांस में कठिनाई हो सकती है और खासी, घरघराहट (सांस छोड़ते वक़्त सीटी की आवाज़ आना), सीने में जकड़न और दर्द जैसे लक्षण हो सकते हैं। इस दवा को अस्थमा के सभी लक्षणों से रोकथाम और उपचार के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज (COPD)

सीओपीडी फेफड़ों की एक गंभीर बीमारी है जिसमें सांस की नली बाधित हो जाती है और उसमें सूजन आ जाती है। इससे सांस लेने में कठिनाई, घरघराहट और बलगम वाली खांसी हो सकती है। Deriphyllin tablet का प्रयोग सीओपीडी के सभी लक्षणों को रोकने और उनका इलाज करने के लिए किया जाता है। यह वायुमार्ग में रुकावट को दूर करता है और खांसी, सांस फूलना और इससे जुड़ी परेशानी को कम करने में मदद करता है।

श्वसनी-आकर्ष (Bronchospasm)

श्वसनी-आकर्ष एक ऐसी स्थिति है जिसमें फेफड़ों में मौजूद मांसपेशिया अनियमित रूप से सिकुड़ जाती हैं। इससे वायुमार्ग में रुकावट आ जाती है जिसके कारण सांस लेने में कठिनाई होने लगती है। Deriphyllin tablet श्वसनी-आकर्ष के सभी लक्षणों जैसे घरघराहट, सांस की तकलीफ, सीने में जकड़न, सांस लेने में कठिनाई, खांसी आदि से राहत प्रदान करती है।

ब्रोंकोस्पस्म एक बीमारी नहीं बल्कि एक लक्षण है जो दमा, सीओपीडी, क्रोनिक ब्रोंकाइटिस या फेफड़ों के संक्रमण से हो सकता है।

Deriphyllin Tablet की संरचना – Deriphyllin Tablet Composition

Deriphyllin दो अलग-अलग दवाओं का एक संयोजन है जिसमें Etofylline और Theophylline शामिल हैं।

Etofylline77 mg
Theophylline23 mg

Deriphyllin Tablet कैसे काम करती है?

Deriphyllin टेबलेट में मौजूद Etofylline ड्रग का इस्तेमाल अस्थमा और क्रॉनिक ऑब्सट्रक्टिव पल्मोनरी डिजीज के इलाज में किया जाता है। वहीँ दूसरी तरफ Theophylline एक bronchodilator (एक दवा जो ब्रोंची को चौड़ा करती है) की तरह काम करता है जो वायुमार्ग के आसपास की मांसपेशियों को आराम देता है जिससे सांस लेने में आसानी होती है। इसके अलावा यह फेफड़ों में मौजूद उत्तेजक पदार्थों को भी कम करने का काम करता है।

Deriphyllin Tablet के दुष्प्रभाव – Deriphyllin Tablet side effects

Deriphyllin टेबलेट के उपयोग के दौरान कुछ लोगों में इसके दुष्प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। हालांकि, ये दुष्प्रभाव आमतौर पर हल्के होते हैं और अगर डॉक्टर की देखरेख में इसकी खुराक ली जाए तो इसे आसानी से सहन किया जा सकता है। लेकिन इसके कुछ ऐसे दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं जो दुर्लभ और गंभीर होते हैं। इसके सामान्य और गंभीर दुष्प्रभाव कुछ इस प्रकार हैं:

  • उलटी
  • दस्त
  • सिरदर्द
  • अनिंद्रा
  • चिड़चिड़ापन
  • बेचैनी
  • पेट दर्द
  • अधिक पेशाब आना
  • दौरे (गंभीर)
  • लौ ब्लड प्रेशर (गंभीर)
  • त्वचा में एलर्जी (गंभीर)
  • एक्सफ़ोलीएटिव डर्मेटाइटिस (गंभीर)
  • सदमा (गंभीर)

Deriphyllin Tablet की खुराक – Deriphyllin Tablet dosage

Deriphyllin टेबलेट डॉक्टर द्वारा निर्धारित दवा है जिसकी खुराक रोगी की उम्र, चिकित्सा इतिहास और रोग की गंभीरता को देखकर दी जाती है। डॉक्टर की सलाह के बिना इस दवा का उपयोग करने से कुछ गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। इस दवा के दुष्प्रभाव से बचने के लिए इसे डॉक्टर के निर्देशन में ही लें।

ओवरडोज़ (Overdose)

अपने चिकित्सक द्वारा निर्धारित खुराक से अधिक न लें। इससे दवा के गंभीर दुष्प्रभाव हो सकते हैं। ओवरडोज़ की स्थिति में तुरंत अपने नजदीकी अस्पताल में संपर्क करें। ओवरडोज़ होने पर आप निम्न में से एक या उससे अधिक लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं।

  • दिल की धड़कन तेज़ होना (टैकीकार्डिया)
  • दिल की अनियमित धड़कन (एरिथमिया)
  • मितली
  • बुखार
  • अनिंद्रा
  • दस्त
  • चिढ़चिढ़ापन
  • बेचैनी
  • मांसपेशियों में मरोड़
  • एनोरेक्सिया
  • अत्यधिक प्यास लगना
  • प्रलाप
  • ऐल्ब्युमिनमेह
  • दौरे जिससे मृत्यु हो सकती है

छूटी हुई खुराक (Missed Dose)

खुराक छोड़ने या भूलने से बचें। यदि आप खुराक लेना भूल जाएं तो याद आने पर तुरंत लें। हालांकि अगर अगली खुराक लेने का समय हो गया है तो छूटी हुई खुराक को अगली खुराक के साथ न लें। ऐसा करने से ओवरडोज़ होने का खतरा हो सकता है।

Deriphyllin Tablet का अन्य दवाओं के साथ नकारात्मक असर – Deriphyllin Tablet interaction with other drugs

कुछ दवाओं को Deriphyllin टेबलेट के साथ इस्तेमाल करने से उसके काम करने का तरीका प्रभावित हो सकता है और दवा के काम करने का असर भी कम हो सकता है। इसके अलावा कुछ गंभीर दुष्प्रभाव भी हो सकते हैं।

यदि आप निम्नलिखित दवाओं में से कोई भी दवा इस्तेमाल कर रहे हैं तो इसकी जानकारी अपने चिकित्सक को दें।

  • कार्बामाजेपीन (Carbamazepine)
  • फ्लूवॉक्सामिन (Fluvoxamine)
  • सिमेटिडिन (Cimetidine)
  • डिसुलफिराम (Disulfiram)
  • सिप्रोफ्लोक्सासिन (Ciprofloxacin)
  • लिथियम (Lithium)
  • फ्लूवॉक्सामिन (Fluvoxamine)
  • रिफाम्पिसिन (Rifampicin)
  • एज़िथ्रोमायसिन (Azithromycin)
  • फेनीटोइन (Phenytoin)
  • प्रोप्रानोलोल  (Propranolol)

इनके अलावा यदि आप किसी भी प्रकार की हाई ब्लड प्रेशर, हाई कोलेस्ट्रॉल, खून पतला करने वाली, मधुमेह-रोधी, दमा-निरोधक, दर्द निवारक, प्रतिरक्षा प्रणाली बढ़ने वाली, या मस्तिष्क संबंधी बिमारियों के लिए दवा ले रहे है तो इसके बारे में अपने डॉक्टर को अवश्य बताएं।

Deriphyllin Tablet से जुडी सावधानियां – Precautions related to Asthakind Syrup

इस दवा का उपयोग निम्नलिखित बिमारियों में सावधानी के साथ किया जाता है:

  • पेप्टिक अल्सर (Peptic ulcer)
  • गुर्दा रोग (Kidney disease)
  • दौरे (Seizure disorder)
  • अनियमित दिल की धड़कन (Heart rhythm disorders)
  • वायरल संक्रमण (Viral infection)
  • हृदय की समस्याएं (Heart problems)
  • फेफड़ों का रोग (Lung disease)
  • थाइरोइड (Thyroid)
  • लिवर की समस्या (Liver problems)

अगर आप ऊपर बताए गए किसी भी रोग से पीड़ित हैं तो Deriphyllin tablet का इस्तेमाल करने से पहले अपने डॉक्टर को उन बीमारियों के बारे में जरूर बताएं।

अन्य सावधानियां:

निम्नलिखित स्थितियों में डॉक्टर की सलाह के बाद ही दवा का सेवन करें:

  • लिवर – जिन लोगों को लीवर की समस्या है, उन्हें Deriphyllin tablet का इस्तेमाल सावधानी से करने की सलाह दी जाती है। यदि आपको किसी भी प्रकार का जिगर रोग है तो इस दवा को डॉक्टर की देखरेख में ही इस्तेमाल करें।
  • गर्भावस्था – गर्भावस्था के दौरान इस दवा का इस्तेमाल न करें क्योंकि गर्भवती महिलाओं में इसकी सुरक्षा के बारे में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है। हालांकि आप इसके इस्तेमाल के बारे में डॉक्टर से अधिक जानकारी ले सकते हैं।
  • स्तनपान – स्तनपान कराने वाली महिलाओं को इस दवा को इस्तेमाल करने की सलाह नहीं दी जाती। इस दवा में में मौजूद तत्त्व दूध में जा सकते हैं जिससे स्तनपान करने वाले बच्चे को नुक्सान पहुंच सकता है।
  • शराब – शराब के साथ Deriphyllin टेबलेट का इंटरेक्शन अज्ञात है। इस दवा के साथ शराब का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें।
  • ड्राइविंग – Deriphyllin टेबलेट लेने के बाद कुछ लोगों को चक्कर आ सकते हैं। यदि दवा को लेने के बाद आप सतर्क हैं तो ही ड्राइव करें।

आहार और जीवन शैली सलाह –  Diet and lifestyle advice

दवा के साथ-साथ खान-पान और जीवनशैली में बदलाव करने से बीमारी को जल्दी ठीक करने में मदद मिल सकती है। Deriphyllin टेबलेट के साथ, निम्नलिखित बातों का ध्यान रखें:

  • अपने भोजन में पोटैशियम से भरपूर खाद्य पदार्थ शामिल करें जैसे आलू, टमाटर, केले, संतरा, तरबूज, हरी सब्ज़ियां, चुकंदर, आदि। पोटैशियम फेफड़ों के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्त्व है।
  • खूब सारा गुनगुना पानी पिएं क्योंकि यह बलगम को पतला करता है और उसे बाहर निकालने में मदद करता है।
  • अपनी श्वसन की मांसपेशियों को मजबूत करने और अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत रखने के लिए नियमित रूप से व्यायाम करें।
  •  ब्रीदिंग एक्सरसाइज यानी सांस लेने का अभ्यास करें। इससे फेफड़ों से अधिक हवा अंदर और बाहर ले जाने में मदद मिलेगी।
  • धूम्रपान करने से बचें क्योंकि इससे Deriphyllin टेबलेट का असर कम हो सकता है और फेफड़ों को ख़राब कर सकता है या सांस लेने में तकलीफ पैदा कर सकता है। (इसे पढ़े: धूम्रपान छोड़ने का आसान तरीका)

Deriphyllin Tablet की कीमत – Deriphyllin Tablet price

Deriphyllin टेबलेट किसी भी मेडिकल स्टोर या ऑनलाइन स्टोर में आसानी से मिल सकती है। इसे 1mg के ऑनलाइन स्टोर से आर्डर करने के लिए निचे दिए बटन पर क्लिक करें।

अभी_खरीदें

Deriphyllin Tablet के विकल्प – Deriphyllin Tablet substitutes

यदि Deriphyllin उपलब्ध नहीं है तो निम्नलिखित दवाओं को विकल्प के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। लेकिन इनमें से किसी को भी इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

विकल्पकंपनी
Zeriphylline TabletHealthy Life Pharma Pvt Ltd
Agrophyllin 77mg/23mg TabletAgron Remedies Pvt Ltd
Graphyllin TabletGracure Pharmaceuticals Ltd
Euroder 77mg/23mg TabletEuro Biogenics
Dericip 77mg/23mg TabletCipla Ltd

Deriphyllin Tablet के बारे में पूछे जाने वाले सवाल – FAQs Related to Deriphyllin Tablet

इसको सेवन करने के बाद 15-30 मिनट के भीतर Deriphyllin अपना असर दिखाना शुरू कर देता है।

यदि आप बेहतर महसूस करने लगे तो Deriphyllin tablet को अपने आप लेना बंद न करें। हमेशा अपने चिकित्सक से परामर्श करें कि आपको यह दवा कब तक लेनी है और आप इसे कब लेना बंद कर सकते हैं।

Deriphyllin Tablet का उपयोग बच्चों में डॉक्टर की सिफारिश के बाद ही किया जा सकता है। यह दवा खुद से अपने बच्चे को न दें।

इस संबंध में कोई जानकारी नहीं मिली है। सावधानी के लिए डॉक्टर की सलाह से ही इसका इस्तेमाल करें।

Herb Home Cure
Herb Home Cure
Articles: 39